समुदाय

आसपास के क्षेत्रों का विकास

बोकारो इस्पात कारखाना अपनी भट्टियों की चमक और ऊष्णता उन लोगों तक पहुंचाने में प्रयासरत है जो इस समृद्ध इस्पात नगरी की परिधि में निवास करते हैं। बीस किमी. के क्षेत्र में आने वाले सभी गांव और आवासीय क्षेत्र परिधि विकास कार्यक्रम के अंतर्गत शामिल किये गये हैं जिससे लगभग 3 लाख लोग लाभान्वित हुये हैं। हाल के वर्षों में सड़कों, पुलों, स्कूलों, प्रारंभिक स्वास्थ्य केन्द्रों, नलकूपों जैसी मूल एवं आधारभूत सुविधाओं के विकास और विद्यमान सेवाओं के नवीनीकरण पर अधिक बल दिया गया है। 

लोगों को रोगों से छुटकारा दिलाने तथा उन तक मुफ्त दवाइयां पहुंचाने के लिए नियमित स्वास्थ्य कैंप लगाये जा रहे हैं। कुष्ठ रोग अस्पताल ‘‘आशा दान’’ को तथा प्राकृतिक आपदाओं के समय सरकारी अस्पतालों को दवाइयों की मुफ्त आपूर्ति की जाती है। उड़ीसा के चक्रवाती तूफान, गुजरात भूकम्प एवं बिहार बाढ़ जैसी प्राकृतिक आपदाओं के पीड़ितों की सहायता के लिए कारखाना सदैव तत्पर रहता है। 

विगत अनेक वर्षों से कारखाना श्रावणी मेले के अवसर पर सुल्तानगंज (बिहार) से देवधर (झारखंड) तक पवित्र जल के साथ लगभग 100 किमी. की पवित्र यात्रा करने वाले कांवडियों के लिये प्राथमिक चिकित्सा कैंप का प्रायोजन करता है।

सामुदायिक सहायता

समाज सेवा के अपूर्व चेतन भाव से कारखाने ने आदिम बिरहोर वंश, जिसकी जनसंख्या बहुत थोड़ी है, के बच्चों को गोद लिया है। ये बच्चे कारखाने के प्यार और संरक्षण में रहते हैं। कारखाने से इन्हें निःशुल्क खाना, निवास, कपड़े और शिक्षा प्राप्त होती है। अपनी सांस्कृतिक धरोहर को छोड़े बिना उन्हें आधुनिक संसार में विकास के अवसर उपलब्ध कराये गये हैं। 

सहायक कम्पनियों को बढ़ावा

बोकारो इंडस्ट्रीयल एरिया डेवलपमेंट अथॉरिटी के अंतर्गत आने वाली सहायक कम्पनियां कारखाने की आर्थिक गतिविधियों का प्रतीक बन गई हैं। इन औद्योगिक इकाइयों को परीक्षण सुविधाएं, आधुनिकीकरण एवं विस्तारीकरण के लिए तकनीकी सहायता तथा कारखाने के अपेक्षाओं को पूरा करने पर प्राथमिकता के आधार पर सहायता प्रदान की जाती है। इन कम्पनियों में क्वालिटी गारंटी सुनिश्चित करने के लिए कारखाना आई.एस.ओ. 9001 क्यू.ए. सिस्टम के विकास के लिए इन्हें निःशुल्क परामर्श प्रदान कर रहा हैं 

बोकारो महिला समिति

1964 में स्थापित बोकारो महिला समिति इस्पात पुरुषों की पत्नियों की एक अग्रणी लोक-हितैषी संस्था है, जो जरूरतमंदों की सहायता करती है तथा निपुणता वर्धन और स्व-रोजगार के अवसरों का निर्माण करती है। समिति गरीब बच्चों तथा अशिक्षित प्रौढ़ों के लिए अनेक स्कूल तथा बच्चों के लिए एक पुस्तकालय चला रही है। प्रशिक्षण केन्द्र तथा उद्योग केन्द्र की शाखाएं मसालें, आटा, सेफ्टी दास्ताने, साबुन, शाॅल, पोशाकें और किनारीदार कपडे़ बनाती हैं जिससे अनेकों महिलाओं को जीविका प्राप्त हो रही हैं। नवजात शिशुओं एवं उनकी माताओं के लिए निःशुल्क चिकित्सा परामर्श तथा चल-औषधालय, जरूरतमंदों को प्राथमिक सहायता प्रदान करने में भी यह समिति महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है। समिति कुष्ठ रोगियों, प्राकृतिक आपदा के पीड़ितों, गरीब परिवारों के बच्चों एवं अन्य साधन-हीन लोगों के लिए अनेक सहायता कार्यक्रम चला रही है।

Set Order: 
4
Go to Top
Copyright © 2012 SAIL, all rights reserved
Designed & Developed by Cyfuture