भारत सरकार के 10 लाख टन रेलवे रेलगाड़ी के मार्ग पर भिल्लई के समीपवर्ती मार्ग पर स्थित सुरक्षा इस्पात की सड़क का निर्माण

City Name: 
नई दिल्ली
Release Date: 
Sat, 01/05/2019 - 23:12

सचिव, इस्पात मंत्रालय, भारत सरकार श्री बिनॉय कुमार, आईएएसका भिलाई प्रवास

  • भिलाई बिरादरी से भारतीय रेल्वे के लिए 10 लाख टन रेल की हर हाल में आपूर्ति का आह्वान।
  • सेल चेयरमैन श्री एके चौधरी, संयुक्त सचिव इस्पात मंत्रालय श्री पुनीत कंसल और सेल निदेशक (तकनीकी) श्री हरिनन्द राय ने भी भिलाई इस्पात संयंत्र का दौरा किया।

सचिव, इस्पात मंत्रालय,भारत सरकार श्री बिनॉय कुमार, आईएएसने भिलाई बिरादरी को संबोधित करते हुए भारतीय रेलवे को रेल आपूर्ति की अपनी प्रतिबद्धता को पूरा करने में भिलाई इस्पात संयंत्र के अत्यधिक महत्व पर जोर दिया। उन्होंने ज़ोर देते हुए कहा कि 10 लाख टन के रेल ऑर्डर की आपूर्ति में कोई कमी नहीं होनी चाहिए तथा भिलाई की टीम स्पिरिट विजयी होनी चाहिए। अपने सम्बोधन मे यही भावना सेल अध्यक्ष श्री अनिल कुमार चौधरी ने भी दोहराई। वे एचआरडीसी में भिलाई स्टील प्लांट के कर्मचारियों के क्रॉस सेक्शन को संबोधित कर रहे थे।

सचिव, इस्पात मंत्रालय, भारत सरकार श्री बिनॉय कुमार, आईएएस, आज, 5 जनवरी, 2019 को भिलाई इस्पात संयंत्र के अपने दौरे पर भिलाई पधारे। उनके स्वामी विवेकानंद अंतर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट,रायपुरमेँ आगमन परभिलाई इस्पात संयंत्र के मुख्य कार्यपालकअधिकारी, श्री ए.के.रथ एवं प्रबंधन केवरिष्ठ सदस्योंने गर्मजोशी से स्वागत किया।

भिलाई निवासपहुँचने परश्री बिनॉय कुमार को कार्यपालक निदेशक (परियोजनाएं) श्री ऐ के कबीसतपथीऔर संयंत्र के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने स्वागत किया। केन्द्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल की एक टुकड़ी द्वारा उन्हे गार्ड-ऑफ-ऑनर दिया गया। इससे पहले 4 जनवरी, 2019 की शाम को सेल अध्यक्ष श्री अनिल कुमार चौधरी,संयुक्त सचिव, इस्पात मंत्रालय श्री पुनीत कंसल, आईएएसतथा निदेशक (तकनीकी) सेल श्री हरिनंद राय के साथ भिलाई इस्पात संयंत्र के दौरे के लिए रायपुर पहुंचे। भिलाई इस्पात संयंत्र के मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्री एके रथ द्वारा रायपुर हवाई अड्डे पर उनकी अगवानी की गई।

संयंत्र भ्रमण से पहले, इस्पात सचिव श्री बिनॉय कुमार,सेल अध्यक्ष श्री अनिल कुमार चौधरी,संयुक्त सचिव, इस्पात मंत्रालयश्री पुनीत कंसल, आईएएस,और सेल निदेशक (तकनीकी) श्री हरिनंद राय, के साथ संयंत्र स्थित सेफ्टी एक्सीलेंस सेंटर ‘सुरक्षा कवच’ पहुंचे और उन्हे सुरक्षा के बारे में जानकारी दी गयी। अपनी संयंत्र यात्रा के दौरान, गणमान्य व्यक्तियों ने यूनिवर्सल रेल मिल, रेल एवं स्ट्रक्चरल मिलतथा स्टील मेल्टिंग शॉप- III का दौरा किया। संयंत्र भ्रमण के दौरान गणमान्य अतिथियोंद्वारा संयंत्र स्थित श्रम उद्यान मे पौधे रोपित किये।

संयंत्र की महत्वपूर्ण इकाइयों के अवलोकन के बाद इस्पात सचिव और अन्य गणमान्य व्यक्तियों ने संयंत्र भवन में यूनिवर्सल रेल मिल, रेल एवं स्ट्रक्चरल मिल, स्टील मेलटिंग शॉप -III तथा सेल उदय टीम के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ मुलाकात की।

दोपहर को श्री बिनॉय कुमार और गणमान्य अतिथियों ने भारतीय रेलवे की जररूरतों, रेल विकास के लिए पहल और नई सुविधाओं से उत्पादन बढ़ाने की आवश्यकताओं पर एक प्रस्तुतीकरण का अवलोकन किया और चर्चा में भाग लिया। इस अवसर पर कार्यपालक निदेशक (संकार्य) श्री पी के दाश, कार्यपालक निदेशक (वित्त एवं लेखा) श्री बी पी नायक, कार्यपालक निदेशक (परियोजनाएँ) श्री ए के कबीसतपथी, कार्यपालक निदेशक (सामग्री प्रबंधन) श्री एस के खैरूल बसर, कार्यपालक निदेशक (खदान एवं रावघाट) श्री मानस बिस्वास, निदेशक प्रभारी (चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाएँ) डाॅ एस के इस्सर, कार्यपालक निदेशक (कार्मिक एवं प्रशासन) श्री के के सिंह उपस्थित थे। इस दौरान विभिन्न विभागों के महाप्रबंधकगण व विभाग प्रमुख मौजूद रहे।

इसके बाद उन्होंने प्रौद्योगिकी आपूर्तिकर्ताओं के साथ चर्चा की और संयंत्र कर्मचारियों के एक क्रॉस सेक्शन के साथ बातचीत भी कीजहां उन्होने इस्पात बीरदारी से हर हाल मे 10 लाख टन रेल ऑर्डर की आपूर्ति पर ज़ोर दिया।भिलाई प्रवास के अंत मे श्री बिनॉय कुमार को सी॰आई॰एस॰एफ॰ द्वारा गार्ड-ऑफ-ऑनर प्रस्तुत किया गया। तदुपरान्त अन्य गणमान्य अतिथियों के साथ दिल्ली के लिए प्रस्थान कर गए।

Select List Order: 
1
Go to Top
Copyright © 2012 SAIL, all rights reserved
Designed & Developed by Cyfuture